Monday, November 30, 2020
Home HEALTH BENEFITS महिलाओं में लक्षण – Ovulation Signs and Symptoms in Hindi

महिलाओं में लक्षण – Ovulation Signs and Symptoms in Hindi

Ovulation Period in Hindi- हर महिला का ओव्यूलेशन का एक अलग समय है। कुछ लोग पहले से ही अच्छी तरह से बता सकते हैं क्योंकि वे हर महीने उसी दिन ओवुलेट करते हैं। और अन्य लोग नहीं बता सकते। महिलाओं में ओवल्यूशन के कुछ लक्षण (Ovulation Symptoms in Hindi) होते हैं। गर्भवती होने के कारण में ओवुलेशन का बहुत बड़ा संबंध जुड़ा हुआ है। यह समझना महत्वपूर्ण है कि ओवरी का होना कब और कैसे होता है।

यहां कुछ लक्षण हैं जो संकेत देते हैं जब आप ovulating होते हैं:

शरीर के तापमान में वृद्धि: अंडे की रिहाई के साथ (release of the egg), आपके शरीर का तापमान तेजी से बढ़ जाएगा। प्रोजेस्टेरोन (Progesterone) उत्पन्न होता है जब ओवल्यूशन होता है और यह शरीर के तापमान में वृद्धि के लिए जिम्मेदार है।

सरवाइकल तरल पदार्थ: गर्भाशय ग्रीवा (cervical fluid) एक मोटी और सफेद तरल पदार्थ में परिवर्तन हो जाती है, जैसे सफेद अंडा। तरल पदार्थ (cervical fluid) की बनावट और मात्रा में परिवर्तन होता है। ओव्यूलेशन आम तौर पर तब होता है जब आपके पास अधिकतम तरल पदार्थ मौजूद होते हैं।

निचले पेट में दर्द: पेट में दर्द की असुविधा हल्के दर्द से लेकर गंभीर दर्द तक हो सकती है। कुछ महिलाएं इसे कुछ मिनट के लिए अनुभव करती हैं और कुछ में यह घंटों तक रह सकती हैं। श्रोणि के किनारे (side of the pelvis) पर थोड़ा सा दर्द भी कभी-कभी महसूस किया जा सकता है।

गर्भाशय ग्रीवा में परिवर्तन: गर्भाशय ग्रीवा (cervix) नरम, उच्च, गीला और खुला होता है। ये महिलाओं में ओवुलेशन के स्पष्ट संकेत हैं। कभी-कभी, ओवुलेशन के समय सामान्य ग्रीवा (normal cervix) और गर्भाशय ग्रीवा (ovulation cervix) के बीच के अंतर को जानने के लिए समय लगता है अगर आपको अंतर ज्ञात नहीं हो।

मासिक धर्म माहवारी (Periods) अवधि शुरू होने से पहले कुछ हलके निशान देखा जा सकता है।

स्तन (Breasts) निविदा महसूस करते हैं। आम तौर पर पेट की सूजन होती है। यह पानी प्रतिधारण (water retention) के कारण हो सकता है।

कुछ महिलाओं में गंध, दृष्टि या स्वाद की बढ़ती भावना हो सकती है।

कुछ महिलाएं ovulating से पहले मनोदशा का अनुभव (experience moodiness) या ऊर्जा की उच्च वृद्धि (high boosts of energy) का अनुभव करती हैं।

कुछ महिलाएं हार्मोनल परिवर्तनों के कारण सिरदर्द (headaches) और मतली (nausea) का अनुभव कर सकते हैं।

महिलाएं अगर अपने शरीर के बारे में चौकस रहे तो उनके ओवरी के समय बता सकती हैं। महिलाओं में ओव्यूलेशन उनके मासिक धर्म चक्रों में अलग-अलग समय पर होता है, और अगर ओवुलेशन के लक्षणों पर ध्यान दिया जाता है, तो सफलता पूर्वक ओवरी के समय बताना संभव है।

बहुत से लोगो के मन में प्रश्न रहते है जैसे कि :

Ovulation Period ही समय है अगर आप गर्भ धारण (Pregnancy Conceive) करना चाहते है।

और वही दूसरी और अगर आप जानना चाहते है की How to Not Get Pregnant in Hindi?

तो उतर स्पष्ट है Ovulation Period में योन संबध न बनाये।

अगर मन में कोई और प्रश्न तो निचे कमेंट करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Sex Kiase Kre- Sex Position To Try For More Pleasure

Sex kaise kre- कोई आप को सेक्स करना नहीं सीखा सकता है क्युकी यह एक ऐसा कला है जो हर किसी को आता है|...

How To Increase Breast Size Naturally

लोग कहते हैं कि आप अपने परिवार के किसी व्यक्ति से अपने स्तन का आकार प्राप्त करते हैं। और जब तक आप सर्जरी के...

What are the ill effects of nightfall In Hindi

Nightfall या Nocturnal Emission अनैच्छिक रूप से वीर्य का स्खलन (कुछ ऐसा होता है जो बिना इच्छा या सचेत नियंत्रण के होता है) जो...

What Is Protein? And Health Benefits Of Protein

प्रोटीन मानव शरीर के लिए महत्वपूर्ण macro-nutrient तत्वों में से एक है। इसे cell के बिल्डिंग ब्लॉक के रूप में जाना जाता है। प्रोटीन...

Recent Comments

free itunes gift card codes generator on How To Increase Breast Size Naturally
http://needlevalve6455.angelfire.com/index.blog/1800898/steel-wcb-parameters-and-analogues/ on How to Become Stress Free, Live Stress Free when Pregnant in Hindi
http://Winterer.ru/w/index.php?title=_What_the_InCrowd_Wont_Tell_You_About_Sbobet_ on मधुमेह रोगी के लिए घरेलू उपचार – Home Remedies for Diabetes